Contact for queries :

ManSampati

02

May'22

वे बिन वे लोग

कहाँ हैं वे दिन’ जब कोयलें गाती थीं भौरे झूमते थे । कहाँ हैं वे लोग जो सुबह से शाम …

Read More

02

May'22

ओ मेरे सन

ओ मेरे बावले मन लोग जैसा कहते हैं बैसा ही बन । तू गाता है द्दं दुनिया खुशी की सगी …

Read More

02

May'22

रेखा और बिन्दु

हम दोनों एक ही रेखा के दो अन्त बिन्दु जेसे एक दूसरे से दूर बहुत दूर हैँ किन्तु, दोनों के …

Read More
copyright © PTBN | Developed By-Truebodh Technologies Pvt.Ltd.

Setup Menus in Admin Panel

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com